मौलिक ज्ञान

सत्य भाषण क्या है ?

आम तौर पर अपनी वाणी से ठीक वैसी ही बात कहना जैसी कि हमारी आत्मा में किसी घटना अथवा वस्तु के बारे में जानकारी हो सत्य भाषण कहलाता है। परन्तु यह आवश्यक नहीं कि जो ज्ञान हमारी आत्मा में हो वह सत्य ही हो। इसलिए सर्वोत्तम बुद्धि द्वारा ग्रहित ज्ञान का कहना ही सत्य भाषण है।

सम्बन्धित सामग्री-

मौलिकज्ञान-किसी विषय की सत्यता व असत्यता का अर्थ क्या है?