मौलिक ज्ञान

र्इश्वर का स्वरूप क्या है ?

किसी पदार्थ का जो स्वभाविक रूप है, वह स्वरूप कहलाता है। अगर हम किसी भी पदार्थ के बारे मे जानना चाहें तो हमें उसके गुण, कर्म और स्वभाव के बारे में जानना होता है। उससे हमें उस पदार्थ के स्वरूप के बारे में पूरा पता चल जाता हैं। इस रीति से हमें र्इश्वर के स्वरूप को जानने के लिए, उस के गुण, कर्म और स्वभाव के बारे में जानना होगा। परन्तु र्इश्वर के गुण कर्म और स्वभाव तो अनन्त हैं। इसलिए र्इश्वर के स्वरूप को जानने के लिए हमें उसके कुछ गुणवाचक विशेषणों को जानना चाहिए।