मौलिक ज्ञान

जानने योग्य सबसे महत्त्वपूर्ण क्या है ?

इस सृष्टि में सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण जानने योग्य विषय है - र्इश्वर।

बड़े दुख की बात है कि र्इश्वर को जानने के लिए अधिकतर व्यक्ति बुद्धि अथवा विवेक अथवा तर्क को उचित नहीं मानते। उनका मानना है कि र्इश्वर को जानने के लिए तर्क के बजाए श्रद्धा की आवश्यकता होती है मानो र्इश्वर विषय तर्क से घबराता है।

र्इश्वर विषय में तर्क का तिरस्कार शायद इस भय से है कि तर्क से र्इश्वर को सिद्ध नहीं किया जा सकता। तर्क के बजाए श्रद्धा को र्इश्वर को जानने का उपाय मानने में शायद इस बात का भी भय निहित है कि लोगों की बुद्धियों के स्तर में अन्तर होने से सभी लोग र्इश्वर को जान नहीं पाएगें। प्रथम भय के बारे में यह कहा जा सकता है कि तर्क से र्इश्वर को अवश्य सिद्ध किया जा सकता है। दूसरे भय के बारे में यह कहा जा सकता है कि मनुष्यों की बुद्धियों के स्तर में अन्तर र्इश्वर को जानने में किसी भी प्रकार की बाधा उत्पन्न नहीं करता क्योंकि र्इश्वर को जानना अति सुगम है। कोर्इ भी वस्तु ऐसी नहीं जिसका ग्रहण हम इन्द्रियों आदि से करें और र्इश्वर उस वस्तु में न हो। ठीक वैसे ही जैसे सत्य बोलना बेहद आसान होता है परन्तु उसके मुकाबले झूठ बोलना अत्याधिक कठिन होता है